असिस्टेंट प्रोफेसर ने छत से कूदकर दे दी जान

वाराणसी, जेएनएन। एक असिस्‍टेंट प्रोफेसर ने शनिवार देर रात छत से छलांग लगाकर जान दे दी। मौके पर मौजूद लोगों के अनुसार वह डीएवी के ही फिलॉसफी विभाग में असिस्टेंट प्रोफेसर सतीश कुमार सिंह के विनायका स्थित विनसम अपार्टमेंट में 306 में मिलने आती रहती थीं। प्रो. शैलजा सिंह से शनिवार शाम को अपार्टमेंट के गार्ड ने इंट्री के लिए कहा तो सतीश ने मना कर दिया, कहा‍ कि मेरे साथ आई हैं तो इंट्री कैसी? इसके बाद दोनों अपार्टमेंट में चले गए। पड़ोसियों के मुताबिक यहां पर काफी देर तक दोनों में झगड़ा हुआ। देर रात उत्तर दिशा में रहने वाले मोहल्ले के कुछ लड़कों ने देखा कि दो लोग आपस मे मारपीट कर रहे हैं, मारपीट के दौरान महिला बाहर कूदने की कोशिश भी कर रही थी।

जानकारी होने के बाद अनहोनी की आशंका में लड़के अंदर गए और विवाद रोकने की कोशिश की। यह वाकया रात करीब 11 बजे का बताया जा रहा है। इस दौरान नशे में होने की वजह से सतीश की लड़कों ने पिटाई भी की, मौके पर मौजूद लोगों के अनुसार दोनों ही काफी नशे में थे। अपार्टमेंट के लोगों से महिला ने इस दौरान गाली गलौज भी की थी। अपार्टमेंट के लोगों ने बवाल बढता देख कर 100 नम्बर पर पुलिस को सूचित किया तो भी पुलिस ने मौके पर आकर कोई कार्रवाई नहीं की। विवाद थमने के बाद रुम पर सोने की बात कह कर महिला वापस कमरे में चली गई।

रात करीब 12.30 बजे सभी नीचे ही मौजूद थे कि तभी उन्‍होंने चौथी मंजिल से जाकर छलांग लगा दी। घटना की जानकारी होने के बाद एक बार फ‍िर से हडकंप मच गया, देर रात लगभग एक बजे बीएचयू ट्रामा सेंटर पुलिस ले गयी। जहां इलाज के दौरान उन्‍होंने दम तोड़ दिया। मौजूद लोगों के मुताबिक महिला प्रोफेसर बार-बार कह रही थी कि सतीश ने मुझे बहुत मारा है। महिला तलाक शुदा थी, उनकी एक लड़की भी है। पुलिस के अनुसार महिला के घर वालों ने कार्रवाई करने से लिखित रूप में मना कर दिया है। शैलजा के पति देवेंद्र सिंह बैजनत्था के इण्टर कालेज में लेक्चरर हैं और बैजनत्था पर ही रहते हैं। एक महीने से पति पत्नी में अनबन चल रही थी। इनकी दो लड़कियां हैं एक कि शादी हो चुकी है और एक बेटी कॉलेज से बीए कर रही है।

SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *