बिजली कटौती का विडियो बनाने से मांगेलाल अग्रवाल पर राजद्रोह का मामला बनाये जाने पर पुर्व मुख्य मंत्री डॉ रमन सिंह ने भूपेश बघेल को घेरा

रायपुर, बड़ी खबर आ रही है कि बिजली कटौती पर वीडियो बनाए जाने पर राजनांदगांव जिले के मांगेलाल अग्रवाल पर राजद्रोह का मामला बनाए जाने का ये मामला छत्तीसगढ़ में पूरी तरह गर्माया हुआ है इस मसले पर नेताओं की बयानबाजी का दौर जारी है। मांगेलाल अग्रवाल पर राजद्रोह का मामला बनाए जाने पर पूर्व सीएम डॉ.रमन सिंह ने बघेल सरकार को घेरा है। सोशल मीडिया पर डॉ. रमन सिहं ने कहा कि क्या अब अभिव्यक्ति की आज़ादी अपराध है? जो आम नागरिक को राजद्रोह की धारा झेलनी पड़ी। क्या देश के किसी मुख्यमंत्री के पास डीजीपी को धारा हटाने का आदेश देने का संवैधानिक अधिकार है? क्या आप प्रदेश की लोकतंत्र व्यवस्था को ध्वस्त कर बंगाल बनाना चाहते हैं?
उन्होंने ट्विटर में लिखा कि क्या अब अभिव्यक्ति की आजादी अपराध है? जो आम नागरिक को राजद्रोह की धारा झेलनी पड़ी। क्या देश के किसी मुख्यमंत्री के पास डीजीपी को धारा हटाने का आदेश देने का संवैधानिक अधिकार है? क्या आप प्रदेश की लोकतंत्र व्यवस्था को ध्वस्त कर बंगाल बनाना चाहते हैं?
गौरतलब हो कि सोशल मीडिया पर बिजली कटौती संबंधित मामलों को लेकर भ्रामक जानकारी फैलाने के ममाले में मांगेलाल अग्रवाल के खिलाफ छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर कंपनी के द्वारा एफआईआर कराए जाने के बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. पकड़े गए आरोपी के खिलाफ लोगों में विद्रोह फैलाकर राजद्रोह का मामला दर्ज किया गया था। लेकिन राजद्रोह का मुकदमा दर्ज होने का मामला जैसे ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के संज्ञान में आया, इसे उन्होंने गंभीरता से लेते हुए तत्काल डीजीपी को फोन कर राजद्रोह की धारा हटाने का निर्देश दिए।

SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *