चार युवक मिलकर महिला आरक्षी पर फेंका तेजाब

  लखनऊ ,उत्तर प्रदेश के मथुरा में चार युवकों ने महिला सिपाही पर तेजाब से हमला कर दिया। जिससे वो गंभीर रूप से झुलस गई। उसे स्वर्ण जयंती अस्पताल में भर्ती कराया गया,  जहां उसे आगरा रेफर कर दिया गया।  घटना थाना सदर बाजार की है। यूपी पुलिस की महिला सिपाही श्रीकृष्ण जन्मभूमि पर तैनात है। वो पुरा गांव के पास कॉलोनी स्थित एक मकान में किराये पर रहती है। महिला सिपाही सुबह चार बजे पर ड्यूटी जा रही थी, तभी कार सवार चार युवकों ने उस पर तेजाब फेंक दिया। एसिड अटैक से झुलसी महिला कांस्टेबल मदद के लिए इधर-उधर दौड़ती रही। जो भी मिला उससे ही मदद की गुहार लगाती। रोते-बिलखते कांस्टेबल दामोदरपुरा के गेट के करीब एक दुकानदार के पास जाकर गिर गई। क्योंकि बुरी तरह से झुलस चुकी थी और दर्द के मारे चीख रही थी। दुकानदार ने मार्निंग वॉक पर निकलीं महिलाओं को बुलाया और उन्होंने कांस्टेबल के जले कपड़ों को बदला। वहीं दुकानदार ने भी अपनी स्वाफी महिला आरक्षी को दे दी थी।सदर बाजार के दामोदरपुरा में सुरेंद्र के यहां पिछले एक साल से किराए पर रह रही है कांस्टेबल नीलम। बताया जाता है कि नीलम 2017 से मथुरा में रह रही है। कुछ दिन पुलिस लाइन में भी रही। थानों में भी पोस्टिंग रही है, जबकि जून 2018 से उसकी तैनाती श्रीकृष्ण जन्मस्थान की सुरक्षा में चल रही थी। जिस तरह से सुबह को साढ़े चार बजे नीलम पर तेजाब फेंका गया है उससे साफ है कि हमलावरों को उसके आने जाने का समय पता था। क्योंकि नीलम के घर से निकलते ही कार सवार हमलावर पहुंच गए थे। एक युवक कार से उतरा, जबकि उसके साथी कार को स्टार्ट करके वहीं खड़े रहे। बताया जाता है कि युवक ने नीलम से कुछ बात भी की थी। बाद में बोतल में लेकर पहुंचा तेजाब उस पर डाल दिया। तेजाब डालकर वह भाग निकला। शरीर पर गिरे तेजाब से झुलसी नीलम मदद के लिए इधर उधर भटकती रही। खूब शोर मचाया और पास में खुल रही एक दुकान पर जाकर गिर गई। नीलम बचाने की गुहार लगा रही थी। बार बार कह रही थी कि मेरी मदद कीजिए यह लोग मुझे मार डालेंगे। जब लोगों ने हमलावरों के बारे में पूछा तो कहने लगी कि वह कार से भाग गए हैं। इस हमले के बाद काफी देर तक अफरातफरी का माहौल रहा।महिला आरक्षी पर एसिड अटैक की घटना से पुलिस महकमे में खलबली मच गई है। पांच टीमें बना दी हैं। इनमें सर्विलास, स्वाट, सदर बाजार के अलावा दो अलग-अलग थाने की टीमें लगाई हैं। पुलिस सूत्रों की माने तो महिला आरक्षी पर तेजाब फेंकने वाले आरोपियों की कार हाईवे के पास से बरामद कर ली गई है। यही नहीं पुलिस के हाथ आरोपी भी लग गए हैं। फिलहाल पुलिस इस पर कुछ भी कहने को तैयार नहीं। बताया जाता है कि इनमें से दो लोगों को पकड़ लिया गया है।चार साल पहले खुर्जा में कंप्यूटर सेंटर चलाने वाले संजय से महिला आरक्षी की दोस्ती हो गई थी। बार-बार महिला आरक्षी को संजय फोन करने लगा। आखिर में महिला आरक्षी ने मोबाइल नंबर तक बंद कर दिया। इसके बाद संजय ने उस नंबर को अपने नाम ले लिया। इसकी भनक लगने पर महिला आरक्षी ने संजय को टोका भी। मना करने के बाद लगातार शादी के लिए संजय दबाव बना रहा था। शादी की मना करने पर संजय ने यह वारदात की है। जल्द ही आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *