दाल भात केन्द्रो को सस्ता चावल देने से मोदी सरकार ने किया इन्कार:शैलेश नितिन त्रिवेदी

रायपुर। पूर्व मंत्री राजेश मूणत के बयान पर पलटवार करते हुये प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि सच्चाई तो यह है कि दाल भात केंद्रो को सस्ता चावल देने से मोदी सरकार ने इंकार कर दिया है। पूर्व मंत्री राजेश मूणत द्वारा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार पर लगाया गया दाल भात केंद्रो को बंद कराने के आरोप झूठे और निराधार है। मोदी सरकार के आदेश से दाल भात केंद्रो को अनाज मिलना बंद हुआ है।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने पूछा है कि मोदी सरकार को गरीबो से इतनी नफरत क्यों? न्याय योजना के विरोध के बाद अब मोदी जी की दाल भात केंद्रो पर तिरछी नजर पड़ी है। घर को आग लग गयी घर के चिराग से। मोदी सरकार ने छत्तीसगढ़ में 2004 से चल रहे 128 अन्नपूर्णा दाल भात सेन्टरो को केन्द्र सरकार के कोटे के चावल का आंबटन रद्द कर दिया है। जिसकी सूचना विगत 27 मार्च 2019 को समस्त जिला अधिकारियो को दी जा चुकी है। उल्लेखनीय है कि इन दाल भात सेंटरो में प्रति दिन लगभग 12000 गरीब छत्तीसगढ़िया 10 रू. में भरपेट भोजन प्राप्त करते थे। चंद बड़े उद्योगपतियो के मित्र और सूटबूट वाली मोदी सरकार ने एक बार फिर गरीबो के पेट पर लात मारी है।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि क्या दाल भात केंद्रो की आड़ में छत्तीसगढ़ के भाजपा नेताओं द्वारा की गयी अनाज की अफरा-तफरी की शिकायते मोदी सरकार तक पहुंची है जो यह फैसला मोदी सरकार ने लिया है? छत्तीसगढ़ में भाजपा की विधानसभा चुनावों में हुयी हार का प्रमुख कारण अनाज की अफरा-तफरी घोटालेबाजी और कमीशनखोरी ही है। इस बात पर अब मो

SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *