पैलोटी काॅलेज में जीवन सुगमता सूचकांक पर हुआ आयोजन, छात्रों व शिक्षकों ने मौके पर ही इज आॅफ लिविंग की लिंक पर दिया फ़ीड बैक

 

*रायपुर।* जीवन को सहज और सुखद बनाना है, तो अधिक से अधिक इज आॅफ लिविंग सर्वे में फीडबैक देना है। यह कहना है, सेंट-विसेंट पैलोटी काॅलेज के छात्रों का। गुुरुवार की सुबह रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा काॅलेज परिसर में जीवन सुगमता सूचचांक सर्वे पर अवेयरनेस कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस अवसर पर स्मार्ट सिटी के महाप्रबंधक जनसंपर्क श्री आशीष मिश्रा, काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. कुलदीप दुबे, उपप्राचार्या डाॅ. पद्मागौरी, राजश्री समूह की निधी अग्रवाल व आशीष अग्रवाल, पूजा राठी, चंद्रशेखर बांधे, आंचल मिश्रा, धनेश्वर यादव समेत बड़ी संख्या में छात्र मौजूद रहे।

*छात्रों ने स्मार्ट सिटी के वीडियो का किया अवलोकन*
इस अवसर पर कार्यक्रम की शुरुआत स्मार्ट सिटी के वीड़ियो से हुई। शहर की खूबसूरती को दर्शाता यह वीड़ियो जीवन सुगमता सूचकांक सर्वे में हमारा फीडबैक कितना आवश्यक है, इससे युवाओं को रूबरू कराया। केंद्रीय आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय भारत सरकार “जीवन सुगमता सूचकांक-2019” सर्वेक्षण के माध्यम से स्मार्ट शहरों में उपलब्ध सुविधाओं व सेवाओं के संबंध में आम नागरिकों से प्रतिक्रिया ले रहा है। इसके लिए “जीवन सुगमता सूचकांक-2019” की लिंक http://Eol2019.org/citizenfeedback पर जाकर या जारी क्यू आर कोड स्कैन कर 29 फरवरी से पहले सभी युवा व शहरवासी अपना फीडबैक अवश्य दें,ताकि रायपुर देश का नंबर-1शहर बन सके।

*लिंक पर जाकर युवाओं ने दिया फीडबैक*
कार्यक्रम में मौजूद सैकड़ों छात्र मौके पर ही अपने स्मार्ट फोन से जीवन सुगमता सूचकांक सर्वे की लिंक पर जाकर फीडबैक दिया। वहीं आयोजन खत्म होने के बाद अपने साथियों को भी फीडबैक देने के लिए प्रेरित किया। बीएड की छात्राओं ने फीडबैक पोस्टर को नोटिस बोर्ड में चिपकाया, ताकि बचे हुए साथी छात्र भी फीडबैक दे सकें।

SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *