गुजरात के सूरत के कोचिंग सेन्टर में लगी भीषण आग

गुजरात के सूरत के तक्षशिला कॉम्प्लेक्स में शुक्रवार को भीषण आग लगने से अब तक 19 छात्रों की मौत हो गई है. हादसे का कारण शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है. इस बिल्डिंग में कोचिंग सेंटर चलता है, जिसमें आग लगने के कारण बच्चे नीचे कूदने लगे. इस घटना का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है, जिसमें आग के डर से छात्र बिल्डिंग से कूदते दिखाई दे रहे हैं. तक्षशिला कॉम्प्लेक्स सूरत के सरथाना इलाके में स्थित है. जिस वक्त यह घटना हुई बिल्डिंग में 40 छात्र मौजूद थे.

फिलहाल आग पर काबू पाया जा चुका है. लेकिन बिल्डिंग से लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने का काम जारी है. इस घटना पर पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर दुख जताया है. उन्होंने लिखा, सूरत में भीषण आग की घटना से बेहद दुखी हूं. मेरी संवेदनाएं मरने वालों के परिवारों के साथ हैं.

घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं. मैंने गुजरात सरकार को स्थानीय प्रशासन से प्रभावितों को सभी तरह की सहायता मुहैया कराने को कहा है.  आग पर काबू पाने के लिए दमकल की 18 गाड़ियां लगाई गईं. गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने इस घटना के जांच के आदेश दिए हैं. उन्होंने हादसे में मारे गए छात्रों के परिजनों को 4 लाख रुपये देने का ऐलान किया है. इससे पहले सूरत के पुलिस कमिश्नर सतीश कुमार मिश्रा ने इस घटना में 15 लोगों के मारे जाने की बात कही थी. उन्होंने कहा था कि मरने वालों की तादाद बढ़ सकती है.

राहत और बचाव कार्य में स्थानीय लोगों ने भी दमकलकर्मियों का सहयोग किया. एक दमकल अधिकारी ने कहा कि तीसरी और चौथी मंजिल पर फंसे छात्र खुद को बचाने के लिए बिल्डिंग से कूदने लगे. इनमें से कई को बचाकर अस्पताल भेजा गया है.आग बिल्डिंग में आने जाने के लिए बनाई गई सीढ़ियों के पास रखे ट्रांसफॉर्मर में लगी थी. जैसे ही आग लगी अंदर मौजूद छात्र उतरने के लिये नीचे पहुंचे. लेकिन आग की वजह से वह लौटकर चौथी मंजिल पर चले गए, जहां एक फाइबर का शेड था और अंदर जिम के लिए रखी गई रबर की चटाई और टायर के कारण आग ज्यादा फैली, जिससे बच्चे आग की चपेट में आ गई.

SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *