छत्तीसगढ़ में अब पत्रकार सुरक्षित नहीं सत्ताधारी दल के नेता ही पत्रकारों की जान के दुश्मन बने

कान्केर। छत्तीसगढ़ के कान्केर जिले में आज कांग्रेसी नेताओं के द्वारा वरिष्ठ पत्रकार कमल शर्मा के ऊपर जानलेवा हमला किया गया । यह हमला भारी भीड़ ने पुलिस के सामने थाने में घुसकर किया गया।  खबर है कि हमलावरों ने सरेराह पिस्टल लहराई गाली गलौज कियाऔर पत्रकार कमल शर्मा की गले पर धारदार हथियार से वार किया गया। जिससे वह लहूलुहान हो गए। आश्चर्य का विशय यह की पुलिस मूकदर्शक बनी रही और सरेराह एक पत्रकार की पिटाई होती रही ।प्रदेश में यह वीडियो  जमकर वायरल हुआ । वहीं पूरे प्रदेश के पत्रकारों ने और प्रेस क्लब के जादाााता अध्यक्षों ने  निंदा प्रस्ताव पारित किया। घटना की कड़ी निंदा करते हुए ज्यादातर प्रेस क्लब के अध्यक्ष  रोड पर उतरने की बात कही ।वहीं सरकार के जवाबदार व्यक्ति इधर-उधर कोना झक्ते  रहे । अपने बयान में दो पत्रकारों का आपसी विवाद बताया। तथा नियमानुसार कार्यवाही की बात कही । कांग्रेश के मीडिया विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने साफ तौर पल्ला झाड़ते हुये कहा कि हमलावर कांग्रेसी सदस्य नहीं है उन्हें निष्कासित किया जा चुका है ।पुलिस को नियमानुसार कार्यवाही करना  चाहिए ।कान्केर पुलिस खानापूर्ति जमानती धारा लगाकर केस को रफा-दफा करने में भिड़ गई है।

 

SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *