6 महीने से अपनी मां की लाश को घर में रखकर वह उसे जीवित करने की कोशिश में लगा हुआ है , पुलिस पहुंची तो केवल कंकाल मिला

अंबिकापुर । ये मामला सूरजपुर जिले के विश्रामपुर के करीब रामनगर गांव से सामने आ रहा है। मिली जानकारी के अनुसार रामनगर गांव के डबरी पारा प्राइमरी स्कूल के समीप सरना पारा में शोभनाथ गोंड़ अपनी पत्नी कलेश्वरी एवं पुत्र अमेरिकन सिंह के साथ रहता है। फरवरी माह में शिवरात्रि के दिन बीमारी के कारण कलेश्वरी बाई की मौत हो गई थी। इसके बाद दाह संस्कार करने के बजाए 6 माह से लाश को बिस्तर पर रखकर वह उसे जीवित करने का प्रयास कर रहा है। अब महिला की लाश नर कंकाल बन चुकी है।

अजीब बात यह है कि पति और पुत्र उसकी मौत की खबर किसी को देने के बजाय उसकी लाश को घर में ही बिस्तर पर रखकर तांत्रिक विधि से पूजा-पाठ कर जीवित करने का असफल प्रयास करने में लगे हुए हैं।

पुलिस पूछताछ में नर कंकाल में तब्दील हो चुकी मृतक महिला के पुत्र अमेरिकन सिंह ने बताया कि उसके द्वारा तांत्रिक साधना के जरिए 6 माह से अपनी मृत मां को जीवित करने का प्रयास किया जा रहा है। उसने पुलिस को बताया कि वह रोज अपनी मृत मां की आत्मा से बात करता है और भगवान ने उससे कहा है कि उसकी मां जिंदा हो जाएगी।

 

SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *