मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष की फिर से कमान संभाल सकते हैं राहुल गांधी

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बृहस्पतिवार को कहा कि पार्टी में कभी भी राहुल गांधी के नेतृत्व को चुनौती नहीं मिली और उन्हें पूरी उम्मीद है कि वह निकट भविष्य में एक बार फिर से पार्टी की कमान संभालेंगे। बघेल ने यह टिप्पणी उस वक्त की है जब लगातार ऐसी खबरें आ रही हैं कि पार्टी में राहुल के करीबियों को कथित तौर पर निशाना बनाया जा रहा है और वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने राहुल के इस्तीफे एवं पार्टी की स्थिति को लेकर कांग्रेस को असहज करने वाला एक कथित बयान भी दिया है।

छत्तीसगढ़ में एक सप्ताह के लिए निकाली गई अपनी ”गांधी विचार यात्रा” के समापन से पहले बघेल ने यहां पीटीआई-भाषा को दिए एक साक्षात्कार में बताया ”इतिहास में यह बात दर्ज है कि पार्टी में नेतृत्व को लेकर इंदिरा जी को भी चुनौती मिली थी। राजीव जी को भी चुनौती मिली और सोनिया जी को भी चुनौती मिली। लेकिन राहुल गांधी के नेतृत्व को लेकर कभी चुनौती नहीं मिली। उन्होंने कहा ”कभी किसी कार्यकर्ता और नेता ने उनके नेतृत्व को लेकर ऊंगली नहीं उठाई।”

पार्टी में राहुल के करीबी नेताओं को निशाना बनाए जाने के आरोप पर बघेल ने कहा ”व्यक्तिगत स्तर पर किसी ने बयान दिया होगा तो उसे महत्व देने की जरूरत नहीं है। यह पूछे जाने पर कि क्या उन्हें उम्मीद है कि निकट भविष्य में राहुल फिर से कांग्रेस अध्यक्ष बनेंगे तो मुख्यमंत्री ने कहा ”निश्चित तौर पर बनेंगे। बिल्कुल बनेंगे।”

महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के मौके पर निकाली गई अपनी यात्रा का उल्लेख करते हुए बघेल ने भाजपा और आरएसएस पर निशाना साधा। उन्होंने आरोप लगाया कि इनका राष्ट्रवाद बापू के राष्ट्रवाद से बिल्कुल उलट है। बघेल ने कहा कि देश में वर्तमान स्थितियों में बापू के राष्ट्रवाद की अवधारणा ज्यादा प्रासंगिक है।

मुख्यमंत्री ने कहा ”एक तरफ महात्मा गांधी का राष्ट्रवाद है कि असहमति रखने वालों का भी सम्मान किया जाए, लेकिन भाजपा एवं आरएसएस का राष्ट्रवाद यह है कि अगर आप इनसे सहमत नहीं हैं तो आपको वह ट्रोल करेंगे और आपको मिटाने की कोशिश की जाएगी।” उन्होंने यह भी कहा ”मैं आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत से पूछना चाहता हूं कि क्या उनका राष्ट्रवाद हिटलर और मुसोलिनी से प्रभावित नहीं है?”

बघेल ने कहा कि चिटफंड मामले में पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के पुत्र अभिषेक सिंह और जाति प्रमाणपत्र मामले में पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के खिलाफ कानूनी प्रक्रिया के तहत कार्रवाई हो रही है और इनमें उनकी सरकार का कोई लेना-देना नहीं है। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि पिछले साल उनके मुख्यमंत्री बनने के बाद से छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था में गति आई है और देश में मंदी होने के बावजूद उनके राज्य में आर्थिक विकास हो रहा है।

उन्होंने कहा ”देश में मंदी का असर है लेकिन हमारे यहां नहीं है। इसकी वजह है कि हमने गरीबों और किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत किया है। वाहनों की बिक्री 13 फीसदी बढ़ी है। गत दिसंबर से सर्राफा की बिक्री में 84 फीसदी बढ़ोत्तरी हुई है।” बघेल ने कहा कि वह राज्य की कृषि आधारित अर्थव्यवस्था को सबल बनाने की कोशिश कर रहे हैं।

SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *