नान घोटाला मामले में Eow की टीम ने तत्कालीन प्रबंधक चिन्तामणि चन्द्राकर के कई ठिकानों पर एक साथ दी गई दबिश

दुर्ग। डॉ रमन सिंह के कार्यकाल कैसे बडा घोटाला नान घोटाला मामले में EOW की टीम ने तत्कालीन प्रबंधक चिंतामणि चंद्राकर के कई ठिकानोपर एक साथ दबिश दी है ईओडब्ल्यू की टीम ने चंद्राकर के दुर्ग, के अलावा और भी कई राज्यो में उनके मकान बताये जा रहे सूत्रों के मुताबिक सोमवार तड़के अलग-अलग टीमों ने एक साथ सभी ठिकानों पर दबिश देकर चल अचल सम्पत्तियों के अलावा नकदी और सोने चांदी के गहनों की पूछ ताछ एवं जांच चल रही है।जानकारी के मुताबिक चन्द्राकर अभी में कांकेर में नान के डिस्ट्रिक्ट मैनेजर के पद पोस्टेड हैं. 2015 में वे रायपुर में पदस्थ थे. उनका नाम नान घोटाले में बरामद डायरी में स्वर्णिम अक्षरो में दर्ज था इसके फिलहाल अधिकारियों की कार्रवाई जारी है. कि इस कार्रवाई से ईओडब्ल्यू को कई और बड़ी मछलियों के सुराग हाथ लग सकते हैं।

SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *