नवजोत सिंह सिद्धु मंत्री पद से दिया इस्तीफा

पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. नवजोत सिंह सिद्धू ने अपना इस्तीफा कांग्रेस अध्यक्ष के नाम भेजा है. उन्होंने ट्वीट कर रविवार को इसकी जानकारी दी. हालांकि नवजोत सिंह सिद्धू ने अपना इस्तीफा 10 जून को ही दे दिया था लेकिन इसका खुलासा आज किया है. सिद्धू ने रविवार को एक ट्वीट कर कहा कि वे अपना इस्तीफा पंजाब के मुख्यमंत्री को भेज रहे हैं.पंजाब में मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और नवजोत सिद्धू के बीच अर्से से खटपट की खबरें थीं. लोकसभा चुनाव में पंजाब में कांग्रेस को अच्छी संख्या में सीटें न मिलने का ठीकरा अमरिंदर सिंह ने सिद्धू पर फोड़ा था और केंद्रीय आलाकमान से उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी. इतना ही नहीं, मुख्यमंत्री ने लोकसभा चुनाव के बाद 6 जून को हुई कैबिनेट की पहली ही बैठक में सिद्धू सहित कई मंत्रियों के विभाग बदल दिए थे.सिद्धू के पास पहले स्थानीय स्वशासन विभाग था, मगर अब उनके जिम्मे ऊर्जा और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग था लेकिन उन्होंने मंत्री पद का कार्यभार ग्रहण नहीं किया था और न ही मीटिंग में शामिल हुए थे. उसके बाद से लगातार सिद्धू को लेकर नाराजगी की अटकलें लगाई जा रही थीं जिनपर विराम लगाते हुए रविवार को उन्होंने खुद अपने इस्तीफे की पेशकश को सार्वजनिक कर दिया. पिछली मीटिंग में मुख्यमंत्री ने पर्यटन और संस्कृति मामलों का प्रभार भी उनसे वापस ले लिया था. यह बात अहम है कि सिद्धू ने अपना इस्तीफा कांग्रेस अध्यक्ष को भेजा है जबकि इस्तीफा राज्यपाल को भेजना होता है. ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि उनका इस्तीफा मंजूर होता है या नहीं और वे मंत्रिमंडल में बने रहते हैं या नहीं.मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से खफा नवजोत सिंह सिद्धू ने तत्कालीन पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी से भी मुलाकात की थी. मुख्यमंत्री ने सिद्धू का विभाग बदल दिया था, मगर उन्होंने अपना कार्यभार ग्रहण नहीं किया और राहुल गांधी व प्रियंका गांधी से मुलाकात की थी. सिद्धू ने ट्वीट किया, “कांग्रेस अध्यक्ष से मिला. उन्हें अपना पत्र सौंपा, हालात से अवगत कराया.” उन्होंने ट्वीट के साथ एक तस्वीर भी पोस्ट की थी, जिसमें वे राहुल गांधी, प्रियंका वाड्रा गांधी और अहमद पटेल के साथ खड़े दिखे.

SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *