मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस चुनाव से संबंधित तैयारियों के दिशा-निर्देशों की जानकारी दी

रायपुर। रावत ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि छत्तीसगढ़ में होने वाले दो दिवसीय समीक्षा बैठक के दौरान निर्वाचन आयोग ने राज्य के सभी राजनीतिक दलों की बातें सुनीं और उन्हें आयोग के दिशा-निर्देशों की जानकारी दी। आयोग ने यह भी बताया कि इस बार चुनाव के दौरान क्या नई सुविधाएं राजनीतिक दलों और नागरिकों-मतदाताओं के लिए दी जाएंगी।

देश के मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत ने कहा है कि दो दिन में हमने चुनाव से संबंधित तैयारियों का जायजा लिया। छत्तीसगढ़ में चुनावी तैयारी ठीक, लेकिन अभी काफी काम करना है। रावत ने कहा हमने वोटरों के लिए एक एप तैयार किया है, जिसके माध्यम से वे चुनाव सम्बंधित समस्या या सुझाव भेज सकते है।

आयोग ने इन दो दिनों में आयकर, आबकारी और पुलिस विभाग से चुनाव की तैयारियों को लेकर चर्चा की। आयोग ने राजनीतिक दलों को बताया कि इस बार के चुनाव में पहली बार एक्सेसिबिलिटी पर्यवेक्षक की नियुक्ति छत्तीसगढ़ में की जाएगी। वहीं छत्तीसगढ़ के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के एक पोलिंग बूथ का संचालन महिलाओं द्वारा होगा। साथ ही सी-विजिल एप की सुविधा प्रदान की जाएगी। इसके माध्यम से कोई भी नागरिक चुनाव संबंधी शिकायतें दर्ज करा सकेगा और इसका समयबद्ध तरीके से निराकरण किया जाएगा।

मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने बताया कि इसके अलावा छत्तीसगढ़ में वीवीपैट का उपयोग पहली बार किया जाएगा। आयोग ने सभी मतदान कर्मचारियों, सीएपीएफ और चुनाव कार्य में संलग्न पुलिस बल के कैशलेस उपचार के लिए राज्य सरकार को निर्देश दिए हैं। आयोग ने एक व्यापक मजबूत और विश्वसनीय सार्वजनिक शिकायत निवारण प्रणाली विकसित की है, ताकि किसी भी सदस्य जिसमें सभी राजनीतिक दल, उम्मीदवार, सिविल सोसाइटी के रखे गए चिंताओं, शिकायतों और सुझावों के लिए एक सार्वजनिक मंच दिया जा सके। वेबसाइट, ई-मेल, पत्र, फैक्स, एसएमएस, कॉलसेंटर(1950) आदि में से किसी के माध्यम से भी चुनाव संबंधित शिकायत दर्ज कराने के लिए नागरिकों को सुविधा दी जाएगी।

रावत ने बताया कि इसी तरह एकल विंडो अनुमति प्रणाली भी तैयार की गई है। इसमें 24 घंटों के भीतर चुनाव प्रचार से संबंहित अनुमति/मंजूरी देने के लिए एकल विंडो प्रणाली बनाई गई है। इसमें उम्मीदवार या राजनीतिक दल बैठकों, रैलियों, वाहनों, अस्थायी चुनाव कार्यालय, लाउडस्पीकर आदि की अनुमति के लिए एक ही स्थान पर आवेदन कर सकते हैं। हालांकि हेलिकॉप्टर उपयोग/लैंडिंग व हेलिपैड के उपयोग की अनुमति के विषय में आवेदन कम से कम 36 घंटे पहले जमा करना होगा।

SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *