प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को बंगला देश की प्रधान मंत्री शेख हसीना से साफ़ तौर पर कहा कि रोहिंग्याओं के लिए लंबे समय तक रुकना ठीक नहीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना से द्विपक्षीय वार्ता के दौरान स्पष्ट तौर पर कहा कि रोहिंग्याओ के लिए कहीं लंबे समय तक रुकना ठीक नहीं है। उन्हें वापस लौटना होगा। पीएम ने हसीना को बताया कि भारत ने इनकी सामाजिक आर्थिक मदद के लिए हर जरूरी कदम उठाया है और अब तक करीब 120 करोड़ रुपये खर्च किए जा चुके हैं। उन्होंने इस दिशा में बांग्लादेश द्वारा उठाए कदमों की भी सराहना की।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उनकी वापसी के लिए बांग्लादेश को और अधिक काम करने की जरूरत है। इस पर हसीना ने बांग्लादेश द्वारा रोहिंग्याओं के लिए उठाए गए कदमों की जानकारी दी। सूत्रों ने बताया कि इस दौरान हसीना ने एनआरसी का मुद्दा भी उठाया। इस पर भारत ने कहा कि यह सतत प्रक्रिया है। पूरी कवायद सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर और उसकी निगरानी में हुई। अब क्या परिस्थिति बनती है देखना होगा।

आतंकवाद के खिलाफ बांग्लादेश सरकार की सख्त नीतियों और क्षेत्र में शांति, सुरक्षा और स्थिरता सुनिश्चित करने के दृढ़ प्रयासों के लिए प्रधानमंत्री मोदी  ने शेख हसीना की सराहना की। इस पर हसीना ने कहा, भारत और बांग्लादेश के संबंध पांच साल में और मजबूत हुए हैं। हमने समुद्री सुरक्षा, एटमी ऊर्जा और व्यापार के क्षेत्र में अच्छा काम किया है.

SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *