पुलिस इंस्पेक्टर लक्ष्मी सिंह चौहान पर 70 लाख रुपये गबन करने का आरोप एफआइआर दर्ज

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में पुलिस का एक बड़ा घोटाला सामने आया है. गाजियाबाद में तैनात महिला इंस्पेक्टर लक्ष्मी सिंह चौहान के खिलाफ पैसे गबन की एफआईआर दर्ज होने के बाद वे फरार हो गई हैं. दरअसल, गाजियाबाद के लिंक रोड में तैनाती के दौरान एक केस में दो गिरफ्तार आरोपियों से करोड़ों रुपये बरामद हुए थे, लेकिन लक्ष्मी चौहान ने पुलिसवालों की मिलीभगत से लिखा पढ़ी में रुपये की बरामदगी कम दिखाई थीं. महिला इंस्पेक्टर पर 70 लाख रुपये गबन का आरोप है.

शुक्रवार देर रात महिला इंस्पेक्टर के सरकारी घर पर गाजियाबाद एसपी सिटी श्लोक कुमार ने छापा मारा. इस दौरान महिला इंस्पेक्टर के घर से 1 लाख 25 हजार रुपये बरामद हुए. पुलिस जब लक्ष्मी चौहान के सरकारी आवास पहुंची थी तो घर का ताला बंद था. पुलिस ने घर का ताला तोड़ा और रकम बरामद की.

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, पैसों के गबन का ये केस एटीएम में पैसे डालने वाली कंपनी सीएमएस के 2 कर्मचारियों से जुड़ा है. कर्मचारियों ने एटीएम में डालने के लिए आए पैसों में गड़बड़ी की थी. मामला गाजियाबाद के लिंक रोड थाना पहुंचा था और जांच लक्ष्मी चौहान के पास थी. लक्ष्मी चौहान ने 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर कुछ लाख रुपये बरामद करने का दावा किया था.

कुछ दिन बाद इलाके के सीओ ने आरोपियों से पूछताछ की तो आरोपियों ने खुलासा किया कि जो रकम लिंक रोड थाने की पुलिस ने बरामदगी में दिखाई है, उससे कहीं ज्यादा रुपये उनके पास से बरामद हुए थे. सीओ ने इस बात की शिकायत एसएसपी गाजियाबाद से की थी जिसके बाद लक्ष्मी चौहान समेत 7 पुलिस कर्मियों पर एफआइआर दर्ज कर उन्हें निलंबित कर दिया गया. फिलहाल गिरफ्तारी के डर से लक्ष्मी चौहान समेत सभी पुलिस कर्मी फरार हैं.

SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *