प्राईवेट सेक्टर की दो कम्पनियों के बीच औद्योगिक निवेश का हुआ करार


रायपुर. छत्तीसगढ़ सरकार और प्रायवेट सेक्टर की दो कंपनियों के बीच औद्योगिक निवेश का करार हुआ है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में सोमवार को उनके निवास में राज्य निवेश प्रोत्साहन बोर्ड की बैठक रखी। इस बैठक में सीमेंट और फेब्रिकेटेड स्टील प्रोडक्ट तैयार करने की दो परियोजनाओं में लगभग दो हजार करोड़ रुपए के पूंजी निवेश के मेमोरेंडम ऑफ अंडरस्टैंडिंग (एम.ओ.यू) पर हस्ताक्षर किए गए। सरकार का दावा है कि इससे 550 लोगों को रोजगार के अवसर मिलेंगे।

  1. श्रीसीमेंट लिमिटेड कम्पनी यहां 8.3 मीट्रिक टन क्लिंकर, 13.5 मीट्रिक टन सीमेंट का उत्पादन करेगी। 170 मेगावाट क्षमता का केप्टिव पावर प्लांट लगाया जाएगा। यह परियोजना बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के सिमगा तहसील के ग्राम खपरीडीह में लगायी जाएगी। इसके लिए 400 एकड़ जमीन की आवश्यकता होगी, जो कम्पनी के पास मौजूद है। कम्पनी के पदाधिकारियों ने बताया कि लगभग डेढ़ से दो साल के अंदर इस परियोजना में उत्पादन शुरू हो जाएगा।
  2. दूसरा एम.ओ.यू. छत्तीसगढ़ सरकार और आर.आर. इस्पात कम्पनी के बीच हुआ है। इस परियोजना में लगभग 19 करोड़ 85 लाख रूपए का पूंजी निवेश किया जाएगा। इससे 100 लोगों को रोजगार मिलेगा। यह परियोजना रायपुर जिले के उरला औद्योगिक क्षेत्र के अछोली गांव में लगायी जाएगी। इस परियोजना के लिए 6.75 हेक्टेयर जमीन की आवश्यकता पड़ेगी, जो कम्पनी के पास है। इस परियोजना में रेलवे ब्रिज के लिए स्टील स्ट्रक्चर, बिजली के खंभे जैसे उत्पाद तैयार किए जाएंगे। इस प्रोजेक्ट में भी 1 साल के अंदर उत्पादन शुरू होने की उम्मीद है।
SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *